July 21, 2024

Loading

चढ़त पंजाब दी
लुधियाना, (सत पाल सोनी) : सतीश चन्द्र धवन राजकीय महाविद्यालय लुधियाना में आज ‘नशा मुक्त समाज अभियान- आंदोलन कौशल का’ कार्यक्रम के तहत सेमिनार का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि तथा वक्ता कौशल किशोर (केन्द्रीय राज्य मंत्री, आवास और शहरी मामले, भारत सरकार) तथा अक्षत कान्त (राष्ट्रीय कार्यक्रम संयोजक) विशेष रूप में पधारे।

प्राचार्य प्रो (डॉ) प्रदीप सिंह वालिया और कॉलेज काउंसिल के सदस्यों ने मुख्य अतिथि का स्वागत किया। समारोह की शुरुआत दीप प्रज्ज्वलन के साथ हुई और कॉलेज शब्द “देह ही शिव वर…” गा कर कार्यक्रम की परंपरा निभाई गयी। प्राचार्य डॉ वालिया ने माननीय मंत्री का स्वागत किया और कहा कि आज हम सभी नशा-मुक्त समाज की संकल्पना के साथ यहां एकत्रित हुए हैं और हम सब के लिए यह हर्ष का विषय है कि हमें उत्साहित और प्रेरित करने हेतु मंत्री कौशल किशोर स्वयं पधारे हैं। नशा-मुक्त भारत बनाने की इस मुहीम का सिर्फ समर्थन ही नहीं करना चाहिए बल्कि हम सभी को इसका हिस्सा होना चाहिए।

मुख्य अतिथि कौशल किशोर ने अपने संबोधन में कहा कि यूं तो यह बहुत ही नेक सामाजिक कारण है कि हमारा समाज नशा मुक्त हो, जिसके लिए सभी को समर्थन देना चाहिए परंतु  उन्होंने सन 2020 में अपने ही बेटे आकाश किशोर को ड्रग्स का शिकार होते पाया और अंततः उन्होंने उसे हमेशा के लिए खो दिया। सबसे अच्छी चिकित्सा सहायता के बावजूद अपने बेटे को बचाने में सक्षम नहीं होने पर उन्हें जो मजबूरी महसूस हुई, उसी की प्रतिक्रिया में उन्होंने यह संकल्प लिया कि अब यह सम्पूर्ण समाज और देश नशा-मुक्त हो। इसी उद्देश्य के साथ उन्होंने “नशा-मुक्त समाज अभियान” की शुरुआत की और देश के अलग-अलग शहरों में जा कर युवाओं से संवाद कर रहे हैं।
देश से नशीली दवाओं के उन्मूलन के अपने मिशन को शुरू करने के संबंध में उन्होंने यह भी कहा कि हम सभी को इस अभियान की शुरुआत खुद से, अपने परिवार, मित्र, आस-पड़ोस से करनी चाहिए और सभी को इस अभियान में शामिल होने के लिए प्रेरित करना चाहिए।
उन्होंने यह भी बताया कि किस प्रकार हर साल नशीले पदार्थों, शराब, तंबाकू आदि के सेवन से लाखों लोगों की मौत हो जाती है।  उन्होंने छात्रों को इस गंभीर वास्तविकता से भी अवगत कराया कि नशा तस्कर स्वयं नशीले पदार्थों से दूर रहते हैं लेकिन यह सुनिश्चित करने का प्रयास करते हैं कि अधिक से अधिक लोग नशीले पदार्थों के जाल में फंसें। उन्होंने इस मिशन में भाग लेने के लिए उपस्थित सभी को शपथ दिलाई। कार्यक्रम में उपस्थित लोगों ने नशा से दूर रहने का संकल्प लिया और यह सुनिश्चित करने के लिए कि उनके परिवार में उनके मित्र मंडल और उनके पड़ोस भी नशे से दूर रहेंगे, इस तरह से पूरा देश नशे से मुक्त हो जाएगा।  डॉ सत्या रानी ने छात्रों को प्रोत्साहित करने के लिए कौशल किशोर ,अक्षत कांत तथा अन्य अधिकारियों का धन्यवाद ज्ञापित किया। राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।
#For any kind of News and advertisement contact us on   980-345-0601
118490cookie-checkएससीडी सरकारी कॉलेज लुधियाना में ‘नशा मुक्त समाज अभियान- आंदोलन कौशल का’ पर सेमिनार का आयोजन
error: Content is protected !!