April 21, 2024

Loading

चढ़त पंजाब दी
सत पाल सोनी
लुधियानापंजाब विजीलैंस ब्यूरो द्वारा पंजाब के खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग के पूर्व डिप्टी डायरैक्टर राकेश कुमार सिंगला और उसकी पत्नी रचना सिंगला की लुधियाना स्थित चार संपत्तियाँ ज़ब्त (अटैच) की गई हैं। यह कार्यवाही डॉ. अजीत अतरी स्पेशल जज, लुधियाना की अदालत द्वारा 8 अगस्त, 2023 को जारी एैड अंतरिम अटैचमैंट ऑर्डर के अंतर्गत की गई।
जि़क्रयोग्य है कि पूर्व कैबिनेट मंत्री भारत भूषण आशु, उसके नज़दीकी राकेश कुमार सिंगला और अन्यों के विरुद्ध साल 2020-21 के लिए अलग-अलग ठेकेदारों को लेबर, ढुलाई के टैंडरों की ग़ैर-कानूनी अलॉटमैंट के सम्बन्ध में थाना विजीलैंस ब्यूरो, लुधियाना रेंज में एफ.आई.आर. नं. 11 तारीख़ 16-08-2022 को आई.पी.सी. की धारा 420, 409, 467, 468, 471, 120 बी और भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम कानून की धारा 7, 8, 12, 13 (2) के अंतर्गत मामला दर्ज किया गया था। इस मामले में मुलजि़म राकेश कुमार सिंगला को 03.12.2022 को पी.ओ. (भगौड़ा) घोषित किया गया था और उसके खि़लाफ़ रैड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया गया है।
इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए विजीलैंस ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि राकेश कुमार सिंगला ने विभाग में अपनी तैनाती के दौरान और खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग की केंद्रीय विजीलैंस समिति (सी.वी.सी.) के चेयरमैन के तौर पर अपने कार्यकाल के दौरान कई संपत्तियाँ खरीदी थीं।  विजीलैंस को जांच के दौरान पता लगा कि राकेश कुमार सिंगला ने अबादी गुरू अमरदास नगर लुधियाना में एक प्लॉट (298/66 वर्ग गज), भाई रणधीर सिंह नगर लुधियाना में 150-150 वर्ग गज के दो प्लॉट, राजगुरू नगर लुधियाना में एक मकान नं. 164-ए (क्षेत्र 300 वर्ग गज) और एक फ्लैट (क्षेत्र 193.60 वर्ग गज) नं. 304, श्रेणी-ए, दूसरी मंजिल, आर.सी.एस. पंजाब सहकारी सभा, गज़टिड अफ़सर, सैक्टर 48-ए, चंडीगढ़ पाँच संपत्तियाँ खरीदी थीं। यह सभी पाँच संपत्तियाँ उसने 01-04-2011 से 31-07-2022 के समय के दौरान अपनी पत्नी रचना सिंगला के नाम पर खरीदी थीं। इनमें से लुधियाना स्थित चार संपत्तियाँ ज़ब्त की गई हैं।
 इस सम्बन्धी राकेश कुमार सिंगला और उसकी पत्नी रचना सिंगला दोनों के खि़लाफ़ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 13(1) (बी), 13(2) और आई.पी.सी. की धारा 120-बी के अंतर्गत एफ.आई.आर नं. 8 तारीख़ 19.04.2023 को थाना विजीलैंस ब्यूरो, लुधियाना में आमदन से अधिक जायदाद बनाने सम्बन्धी अलग आपराधिक मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने आगे बताया कि यह दोनों पति-पत्नी इस मामले में भगौड़े हैं।
राकेश कुमार सिंगला ने अपनी आमदन के स्पष्ट रूप से स्रोतों की अपेक्षा 70.92 फ़ीसद अधिक किया ख़र्च
उन्होंने बताया कि 01-04-2011 से 31-07-2022 तक के जांच समय के दौरान राकेश कुमार सिंगला और उसकी पत्नी रचना सिंगला की आमदन 2,59,68,952 रुपए थी, जबकि उनके द्वारा 4,43,87,182 रुपए खर्च किए गए, जोकि उनकी आमदन के स्पष्ट रूप से स्रोतों की अपेक्षा 70.92 प्रतिशत (1,84,18,230 रुपए) अधिक है।  विजीलैंस ब्यूरो ने छह और संपत्तियों का लगाया पता   प्रवक्ता ने बताया कि इस मामले की जांच के दौरान पंजाब विजीलैंस ब्यूरो को राकेश सिंगला द्वारा अपनी पत्नी रचना सिंगला और पुत्र स्वराज सिंगला के नाम पर खरीदी छह और संपत्तियों का भी पता लगा है। इनमें से पाँच संपत्तियाँ वसीका 1179/30.6.21 (क्षेत्र 95.51 वर्ग गज), वसीका 1180/30.6.21 (क्षेत्र 98.47 वर्ग गज), वसीका 1181/30.6.21 (क्षेत्र 121.51 वर्ग गज), वसीका 1182/30.6.21 (क्षेत्र 98.47 वर्ग गज), वसीका 1183/30.6.21 (क्षेत्र 98.51 वर्ग गज) लुधियाना जिले में सैलीब्रेशन बाज़ार, जी.टी. रोड खन्ना में स्थित हैं। इसके अलावा तारीख़ 02/05/2013 को न्यू चंडीगढ़ में रचना सिंगला के नाम पर 79.04 वर्ग मीटर का एक एस.सी.ओ. खरीदा गया। मुलजि़म को इन सभी छह संपत्तियों से प्रति माह तकरीबन 2 लाख रुपए किराया आ रहा है।   उन्होंने आगे बताया कि कानूनी कार्यवाही के उपरांत बाकी सात संपत्तियों को ज़ब्त करने की प्रक्रिया जल्द शुरू की जायेगी।
#For any kind of News and advertisement contact us on   980-345-0601
Kindly Like,share and subscribe our News Portal http://charhatpunjabdi.com/wp-login.php
158000cookie-checkविजीलैंस ब्यूरो द्वारा फूड सप्लाई विभाग के पूर्व डिप्टी डायरैक्टर राकेश कुमार सिंगला की चार संपत्तियाँ ज़ब्त 
error: Content is protected !!